रंग पंचमी का त्यौहार

1 Min Read

रंग पंचमी का त्यौहार होली के 5 दिन बाद चैत्र कृष्ण पंचमी को मनाया जाता है इस दिन सभी लोग एक दूसरे को रंग लगाकर प्रेम और भाईचारे को व्यक्त करते हैं यह अधिकांश गांव में बड़ी धूमधाम से मनाते हैं।

होली के 5 दिन बाद आने की वजह से इस त्यौहार को रंग पंचमी का त्यौहार कहते हैं।

इस दिन कई जगह पर शोभायात्रा भी निकाली जाती है भारत के अनेक राज्यों जैसे महाराष्ट्र राजस्थान और मध्य प्रदेश में बड़ी धूमधाम से संगीत व नृत्य के साथ मनाई जाती है जिनमें से महाराष्ट्र में यह बड़ी हर्षोल्लास से मनाई जाती है
इस दिन अपनी साथियों व रिश्तेदारों को भोजन पर बुलाते हैं।

रंग पंचमी का त्यौहार आपसी भाईचारा व सदाचार का प्रतीक है ऐसा माना जाता है कि इस दिन सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है।

Share This Article