मंगलवार व्रत कथा। Mangalvar vrat katha (kahani).

मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा करते हैं। हनुमान जी हमे भय से मुक्ति दिलाते है, इनके नाम जाप मात्र से ही हम भय मुक्त...

बृहस्पतिवार की कथा। Brihaspatiwar ki katha (kahani).

भगवान् बृहस्पतिदेव की पूजा - अर्चना के लिए बृहस्पतिवार को व्रत करके , बृहस्पतिवार...

करवा चौथ की कथा। Karwa chauth ki katha ।

करवा चौथ का व्रत विवाहित महिलाओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण दिन होता है। ...

व्यायाम के प्रकार तथा व्यायाम करते समय बरतने वाली सावधानियां

स्वस्था व शरीर के विभिन्न अंगों पर जिन व्यायामों का प्रभाव पड़ता है ये...

सुपरफूड मोरिंगा पाउडर के फायदे। Moringa powder benefits in Hindi.

मोरिंगा पाउडर को सहजन वृक्ष के वृक्ष से प्राप्त किया जाता हैं, सहजन...

5 yoga for acidity : जानिए पेट गैस के लिए योग।

इस पोस्ट में पेट गैस के लिए योग की जानकारी दी गई है योगासनों के नियमित अभ्यास से एसिडिटी और गैस्ट्रिक प्रॉब्लम से बचा...

सुदर्शन क्रिया। सुदर्शन क्रिया की विधि,लाभ,सावधानियां और समय। sudarshan kriya in hindi.

सुदर्शन क्रिया हमारी सांसों से जुड़ा एक ऐसा योगासन है जिससे हमारी सांसे नियंत्रित होती है और हमें सही दृष्टि मिलती हैं। सुदर्शन क्रिया...

ताड़ासन। Tadasana in hindi, 2. tadasana information.

ताड़ासन या समस्थिति : इस आसन की स्थिति ताड़ वृक्ष जैसी होने के कारण इसे ताड़ासन कहते हैं। ताड़ासन को समस्थिति आसन(samasthiti asana) भी...

कूर्मासन करने की विधि, लाभ,विशेष, समय और सावधानियां।kurmasan. kurmasana.

यह आसन पूर्णता आध्यात्मिक आसन है। इस आसन में मन शांत होता है। और इस आसन में शरीर कछुए की आकृति ग्रहण करता है...

पश्चिमोत्तानासन। पश्चिमोत्तानासन की विधि, लाभ और सावधानियां।paschimottanasana kaise karte hain.

पश्चिमोत्तानासन योग प्रभावशाली और अत्यंत लाभकारी आसन है।पश्चिमोत्तानासन करने में थोड़ा कठिन लग सकता है किंतु इसको नियमित रूप से करने से यह...

जानु शीर्षासन के लाभ। janu sirsasana benefits in hindi. benefits of janu sirsasana.

जानु शीर्षासन के लाभ की बात करें तो इस आसन को करने से अनेकों लाभ मिलते हैं।जानुशीर्षासन (janu sirsasana) संस्कृत भाषा का शब्द है...

जानुशीर्षासन परिवृत्त। parivrtta janu sirsasana.janu sirsasana in hindi

जानुशीर्षासन परिवृत्त( parivrtta janu sirsasana) छाती की मांसपेशियों की स्ट्रैचिंग के लिए किया जाने वाला योगाभ्यास है। जानुशीर्षासन परिवृत्त का अभ्यास थोड़ा कठिन लग...

जानुशीर्षासन। जानुशीर्षासन करने की विधि,लाभ,सावधानी,विशेष और समय। janu sirsasana in hindi.

जानुशीर्षासन का अर्थ।जानुशीर्षासन करने की विधि।janu sirsasana poseजानुशीर्षासन करने के लाभ।benefits of janu sirsasana. जानुशीर्षासन (janu sirsasana) का अर्थ। जानुशीर्षासन (janu sirsasana) संस्कृत भाषा का शब्द...

वृक्षासन। वृक्षासन करने की विधि लाभ विशेष और समय।

वृक्षासन विधि । वृक्षासन में सीधे खड़े होकर , धीरे - धीरे बाएं पैर को ऊपर उठाते हुए एड़ी को गुप्तांगों से सटाकर लगाएँ...

शशांकासन। शशांक आसन करने की विधि लाभ विशेष और सावधानियां।

शशांकासन विधि : वज्रासन में बैठे व दोनों एड़ियों को नितम्बों से बाहर करना चाहिए । दोनों हाथ सीधे ऊपर ले जाकर तथा श्वास...

पवनमुक्तासन।pawanmuktasana in hindi.

पवनमुक्तासन 3 शब्दों से मिलकर बना है पवन+मुक्त+आसन। अर्थात आसन की ऐसी मुद्रा जिसमें दूषित वायु से छुटकारा पाया जाता है। इसी कारण इसे...

शवासन। शरीर की थकान मिटा कर शक्ति को पुनः संचित करता है शवासन।

विधि : विधि : ' शव ' का अर्थ है मुर्दा। इस आसन में शरीर की स्थिति मृत्यु प्राप्त शरीर के जैसी हो जाती है...

सूर्य नमस्कार आसन। सूर्य नमस्कार।perfect surya namaskar. surya namaskarin hindi.

सूर्य सौरमंडल का केंद्र बिंदु है। जिस प्रकार दिन का प्रारंभ सूर्योदय से होता है ठीक उसी प्रकार योगासनों की शुरुआत भी 'सूर्य नमस्कार'...

शंख प्रक्षालन।शंख प्रक्षालन की विधि,आसन,विशेष, लाभ, सावधानी, और अवधि या समय।

शंख प्रक्षालन क्या है। शंख प्रक्षालन एक क्लीजिंग योगाभ्यास है। जो हमारे शरीर को हानिकारक रोगाणुओं टॉक्सिक तथा विषैले पदार्थों से बचाता है। शंख प्रक्षालन...

- A word from our sponsors -

spot_img
Homeयोग