पढ़ाई या परीक्षा के दौरान क्या खाएं।

Educationपढ़ाई या परीक्षा के दौरान क्या खाएं।

स्वास्थ्यवर्धक अथवा पौष्टिक भोजन करने को बेहतर एकाग्रता से जोड़ा जाता है। पढाई तथा परीक्षा के दौरान पौष्टिक तथा स्वस्थ खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। क्योंकि पढ़ाई के दौरान मस्तिष्क को अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है

तो आइए जानते हैं खाने के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बिंदु जो पढ़ाई के दौरान अपनाने चाहिए।

👉 पढ़ाई और परीक्षा के दौरान छोटे-छोटे हिस्सों में और कई बार भोजन करें।

👉 दही नट्स सूखे मेवे ताजा फल सूखे पॉपकॉर्न या डीप के साथ वेजिटेबल स्टिक्स जैसे स्नेक्स खाए।

👉 खूब पानी पिएं। पानी की कमी थका हुआ महसूस करवा सकती है दिन में लगभग 2 से 3 लीटर पानी अवश्य पिए।

👉 खाने में सुविधाजनक पौष्टिक सामग्री उपयोग करें। पीनट बटर,सेंडविच,नाश्ता,अनाज बेक्ड बींस अथवा टोस्ट तथा सलाद शामिल करें।

👉 कॉफी,चाय,कोला,एनर्जी ड्रिंक तथा अधिक कैफीन युक्त पदार्थों से बचना चाहिए क्योंकि इन में उपस्थित कैफीन की मात्रा हमारे नींद के पैटर्न को बाधित कर सकती हैं।

👉 चिप्स कैंडी कुरकुरे इत्यादि का सेवन कम करें क्योंकि यह हमारे शरीर में ऊर्जा की कमी उत्पन्न कर सकते हैं जिससे हमारे शरीर में चिड़चिड़ापन हो सकता है इस कारण पढ़ाई के दौरान जो हम चाहते हैं वह नहीं कर पाते हैं।

पढाई या परीक्षा के दौरान नाश्ता है जरूरी

नाश्ता हमारे दिन का सबसे महत्वपूर्ण भोजन है। हमारे लंबे वक्त की नींद के पश्चात उपवास को तोड़ता है। यह हमारी अच्छी याददाश्त तथा एकाग्रता में मदद करता है। हमें अध्ययन के लिए तथा खेलने के लिए ऊर्जा प्रदान करता है। तथा जो लोग रोजाना नियमित रूप से नाश्ता करते हैं उनका वजन सामान्य होता है।

पढ़ाई या परीक्षा के दौरान नाश्ते में कर सकते हैं इनका उपयोग– वेजिटेबल पोहा, वेजिटेबल नमकीन दलिया,ताजे फल,और दही। शहद के साथ दलिया और दही के साथ ग्रेनोला या मूसली आदि।

पढ़ाई या परीक्षा के दौरान क्या खाएं।
Healthy diet

इसके साथ ही सूखे नट्स बदाम इत्यादि का प्रयोग करें। शाम को सोने से पहले दूध ले सकते हैं।

पढ़ाई या परीक्षा के दौरान क्या खाएं।
Milk and nuts

दोपहर के वक्त आप फल तथा जूस ले सकते हैं। दोपहर में फल तथा जूस का सेवन करने से आपके ऊर्जा बनी रहती है तथा आप तरोताजा महसूस करते हैं।

पढ़ाई या परीक्षा के दौरान क्या खाएं।
Fruit and juice

आप सुबह के समय हैवी डाइट का उपयोग कर सकते हैं लेकिन दोपहर में हैवी डाइट ना ले। क्योंकि हैवी डाइट लेने से नींद आने लगती है।

पढ़ाई अथवा परीक्षा के दौरान शरीर में पानी की कमी से बेचैनी हो सकती है। इस वक्त आप नींबू पानी ग्रीन टी छाछ इत्यादि ले सकते हैं।