इन सबसे खतरनाक एप्स से बनाए दूरी वरना खाली हो सकता है आपका अकाउंट।Dangerous app in Hindi.

4 Min Read

गूगल प्ले स्टोर पर 8 ऐसे खतरनाक एप्स उपस्थित है जो आपके बैंक अकाउंट को पूरी खाली कर सकते हैं। वैसे तो स्मार्टफोन हम सबकी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है। स्मार्टफोन से लोगों से संपर्क के साथ-साथ पढ़ाई लिखाई हिसाब-किताब बैंक खातों के संचालन आदि का कार्य किया जाता है इन सब कामों के लिए कई तरह के ऐप्स बनाए गए हैं। लेकिन इनमें से कुछ ऐप आपके लिए घातक साबित हो सकते हैं। इन ऐप से सावधान रहने की जरूरत है।

इन एप्स के द्वारा लोगों के स्मार्टफोन में विज्ञापन दिखाया जाता है तथा उस विज्ञापन के माध्यम से खतरनाक मैलवेयर आपके फोन में पहुंचा दिए जाते हैं जो कि यूजर्स को नुकसान पहुंचाते हैं। गूगल ने हाल ही में ऐसे 164 खतरनाक एप्स को प्ले स्टोर से हटा दिया है लेकिन अभी भी कुछ घातक ऐप्स है जो आप को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

तो आइए जानते हैं हिना घातक एप्स के बारे में और यह किस कारण से इतनी खतरनाक माने जाते हैं।

ये है सबसे खतरनाक एप्स।

इन सबसे खतरनाक एप्स से बनाए दूरी वरना खाली हो सकता है आपका अकाउंट।Dangerous app in Hindi.
खतरनाक एप्स

1. केक वीपीएन (cake VPN)

2. पेसिफिक वीपीएन (Pacific VPN)

3. ई वीपीएन (E vpn)

4. बीट प्लेयर (beat player)

5. क्यूआर/बारकोड स्कैनर मैक्स

6. म्यूजिक प्लेयर(music player)

7. क्यू रिकॉर्डर (q recorder)

8. टूल्टिपनाटोर लायब्रेरी

यह है इन खतरनाक एप्स मे।

security research form check point के अनुसार एप्स को मैलवेयर ड्रॉपर की श्रेणी में रखा गया है। जिसको 82 क्लास्ट का नाम दिया गया है। इन ऐप को इस प्रकार से डिजाइन किया गया है कि यह गूगल प्ले प्रोटेक्ट को आसानी से चकमा दे सकते हैं इसलिए इन ऐप से दूरी बनाकर रखें।

क्यो है यह ऐप्स इतने खतरनाक। क्यो रखा गया है इन्हें खतरनाक एप्स की श्रेणी में।

साइबर विशेषज्ञों की मानें तो यह एप्स जिनके मोबाइल में है उन्हें इन एप्स को तुरंत हटा देना चाहिए। वरना साहेबर अपराधियों के द्वारा आपका डाटा चोरी हो सकता है तथा आपको चूना लग सकता है। यह साइबर अपराधी आपका अकाउंट खाली करने में एक्सपर्ट होते हैं। यह रिमोटली कंट्रोल तथा विज्ञापन के जरिए आपके फोन में मेलवेयर भेजते हैं। हैकर आपके मोबाइल में उपस्थित बैंक से जुड़े हुए ऐप्स में संदिग्ध कोड डाल सकता है। और इसके द्वारा आपके फोन में मार्ट भी इंस्टॉल कर सकते हैं। जिसके द्वारा आपके फोन को आसानी से रीमोटली कंट्रोल किया जा सकता है। इन दोनों प्रोग्रामिंग के जरिए आपके बैंक एप्स को आसानी से हेक किया जा सकता है। इसलिए आप इन एप्स को अपने फोन में इंस्टॉल ना करें तो ही अच्छा होगा। और यदि आपके स्मार्टफोन में यह ऐप है तो इन्हें तुरंत डिलीट कर देने मे ही भलाई है।

इन सबसे खतरनाक एप्स से बनाए दूरी वरना खाली हो सकता है आपका अकाउंट।Dangerous app in Hindi.

गूगल प्ले स्टोर अब तक 1700 से अधिक एप्स को हटा चुका है।

आपको बता दें कि गूगल ने 2017 के बाद मैलवेयर से प्रभावित लगभग 17 सौ से अधिक एप्स को हटा दिया है। ये ऐसे एप्स थे जो यूजर्स की सिक्योरिटी को खतरे में डालते थे। साइबर सिक्योरिटी फर्म चेकप्वाइंट के रिसर्चर्स ने गूगल प्ले जोकर ड्रॉपर और प्रीमियम डायलर स्पाइवेयर के नए वेरिएंट को खोजा है। cyber security farm pradeo के अनुसार मैलवेयर से प्रभावित एप्स को हटा दिया गया है लेकिन जो यूजर्स इनका इस्तेमाल करते थे उनके फोन में यह मेलशस के रूप में अभी भी उपस्थित है। यूजर्स किसी भी प्रकार के फ्रॉड से बचने के लिए इन एप्स को अपने फोन से तुरंत डिलीट कर दें।

Share This Article